Home Parenting Important of money for kids

Important of money for kids

52
0
Saving
www.witsbrain.com

बच्चे को छोटी उम्र से ही money   के महत्व को समझाना चाहिए, उन्हे पैसे को सँभालने और बचाने के तेंरीके सिखाये, बचपन में सिखाई गई पैसे की महत्ता उसकी आदत में शुमार होकर उसके आत्मनिर्भर बनाने की नीव बनेगी। #how-to-teach-mony-saving-skill-to-kids

अपनी जिंदगी  के experience   से आपने बहुत कुछ सीखा होगा, अगर हम बात आर्थिक पक्ष की करे तो बदलते lifestyle  में पैसे की  अहमियत सबने सीख ली है, ऐसे  में बच्चो  को पैसे की अहमियत सीखना अन्यन्त आवश्यक हो गया है,  पैसे के खर्च  करना , पैसे को संभालना की कला उनको भी सीखना चाहिए, बच्चे के प्यार , लाड दुलार में पैसा अवश्य शामिल करे , लेकिन इतना नहीं की बच्चा आर्थिक पक्ष के प्रतिनजरंदाजी अख्तियार कर ले।बच्चे स्कूल से ज्यादा आप से सीखते है, छोटी उम्र से ही उनको पैसे के महत्व को समझाए। यानी  बच्चो के पैसे सँभालने और खर्च करने के सही तरीका सिखाये। बचपन में आप जो भी बच्चो को सिखाते है, वो उनकी आदत बन जाती है, इसके  लिए बच्चो को पैसे का महत्त्व अवश्य सिखाइये । #monysaing

गुल्लक (मनी बैंक )  की अहमियत : importance of money Bank

बच्चो को छोटी -छोटी savings  सिखाये इसके लिए उनको गुल्लक ला कर दे। और कुछ पैसे उसमे डलवाये , बच्चे तो जिद करेंगे, पर आपको उनको समझाना होगा की बचत किये पैसो से वह कुछ उपयोगी सामान ले सकता है, और उसके जमा किये गए पैसो से वही सामान ला कर दे जिसके बारे में आपने बोला था, इससे बच्चे का उत्साह बढ़ेगा। #importantofsaving

पॉकेट मनी से सेविंग : Saving from pocket money

बच्चो कों नियमित pocket money  देना बिलकुल गलत नहीं है, क्योकि बदलते समय के साथ हमे भी अपनी सोच बदलनी चाहिए, जब सभी बच्चो को पॉकेट मनी मिलती हो, आप न दे इससे बच्चा गलत रह पर भी जा सकता है,आप बच्चे को नियमित पैकेट मनी दे, पर उनके पैसे का महत्व पहले समझा दे, उसको पॉकेट मनी का कुछ भाग उसे बचाने को कहे, बाद में उस इकठ्ठा किये हुए पैसे से उसी के लिए कुछ उसका पसंद का सामान खरीद दे। इससे वह खुश  होगा और अच्छे  से अपने खर्चे मैनेज करेगा।

बचत व् बैंकिंग की आदत : Habit of saving /banking

बचपन में आप बच्चे को जो सिखाते है उसका effect  lifetime  रहता है, इसलिए बचपन से ही बच्चो को बचत व् banking  का महत्व समझाए, अधिकतर माता पिता बच्चो को birthday या अन्य किसी अवसर पर मिलने वाले पैसे खुद रख लेते है, जो बच्चो को कुछ नहीं सिखाता, लेकिन उन्हे आपका ऐसा करना बिलकुल पसंद नहीं आता, आपको बच्चो को मिला हुआ पैसा अपने पास न रख कर, बैंक या पोस्ट ऑफिस में उनका account  खुलवा देना चाहिए, और बच्चो के इसके फायदे बताये, और उन्हे उनकी banking  करने को कहे, हर महीने मिलने वाले ब्याज के बारे में बताये, जैस- जैसे बच्चे बड़े हो उन्हे advance banking  सिखाये, जैसे की अगर बच्चे को 1 साल बाद किसी चीज की जरुरत है तो उसका recurring account  खुलवाए, और हर महीने एक निश्चित अमाउंट उसमे जमा होगा, और जब उसको वह सामान लेना हगा तो उसको उतना अमाउंट मिल जायेगा।

हिसाब किताब रखना सिखाये:   Teach kids accounting

बचपन से ही बच्चो को accounting  सिखाये ,याद रहे बच्चा हिसाब किताब रातो रात नहीं सिखलेगा, वह इस धीरे धीरे सीखेगा,  एज के अनुसार उसे हिसाब रखना सिखाये, जैसे  छोटे बच्चो को  एक बिस्कुट का पैकेट लेना है, सपोस वह 8 रुपये का है तो उस 10 का नोट दे , और बिस्कुट खरीदने को कहे , जब दुकानदार उसको चेंज दे, तो उसे चेक करने को कहे सही है या नहीं, धीरे धीरे ज्यादा सामान का हिसाब रखना भी सीख जायगा, मॉल का बिल बच्चे से पे करवाए, कही घूमने जा रहे है बच्चो को कुछ पैसे देदे, और दिन भर के जो भी छोटे – छोटे खर्चे है, वह बच्चे को करने दे, बच्चे लेन – देन सिख जायेंगे, यानी बच्चे रुपयों का गिनना भुगतान करने और वापसी  की राशि का हिसाब सीख जायेंगे, जब वह हिसाब किताब में निपुण हो जाये तो पैसे निकलने और  जमा करने की पर्ची भरना सिखाये,

गेम्स से बचत : Teach saving by games

आप चाहते है की बच्चे  हिसाब – किताब में पक्के हो जाये तो आपका समय आपको बच्चो को देना होगा, उनके  साथ आपको लेन – देन वाले गेम खेलने होंगे , थोड़ी मेहनत तो करनी पड़ेगी , ऐसे गेम जिसमे वह हिसाब-किताब करना सीख जायेंगे, ऐसे गेम में बच्चो को बताये, की अगर वह पैसे बचा लेते है तो वह ज्यादा मन पसंद चीजे खरीद सकते है, यही नहीं इससे बच्चो में पैसे की बचत की आदत का विकास होगा। बचत करने की आदत से बच्चे न केवल आत्मनिर्भर होंगे, बल्कि उन्हे बड़े होने पर अपनी आर्थिक आवश्यकताओं के लिए संघर्ष नहीं करना  पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here